मैं और उनकी तन्हाई

मैं और उनकी तन्हाई
मैं और उनकी तन्हाई

Follow by Email

Monday, February 10, 2014

Valentine Week Special :-

Valentine Week Special :-
खुशनसीब था वो जिसने तुम्हे पाया ,
बदनसीब था मेरा दोस्त जिसे तुमने मामा बनाया ,
सुनकर अच्छा लगा की तुमहारे लिए पुत्र और पुत्री एक समान हैं ,
लेकिन मेरे दोस्त को क्यूँ ठुकराया, मेरा दोस्त भी तो एक इंसान हैं ||

No comments:

Post a Comment